इंडी गठबंधन के नेताओं को जनता की फिक्र नहीं, उनकी पहली चिंता परिवार और संपत्ति कीः सुशील मोदी

Edited By Ramanjot, Updated: 22 Feb, 2024 10:31 AM

first concern of indi alliance leaders is family and property sushil modi

सुशील मोदी ने कहा कि देश की 140 करोड़ जनता को ही परिवार मान कर गरीब, युवा, महिला और किसानों के विकास के लिए दिन-रात काम करने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का इंडी गठबंधन कभी मुकाबला नहीं कर पाएगा। उन्होंने कहा कि परिवारवाद और भ्रष्टाचार में डूबी...

पटना: पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी (Sushil Kumar Modi) ने कहा कि इंडी गठबंधन में सोनिया गांधी, लालू प्रसाद, ममता बनर्जी, एमके स्टालिन, उद्धव ठाकरे सहित सभी बड़े दलों के नेता अपने बेटे या परिजन को आगे बढ़ाने और सम्पत्ति बनाने के लिए काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कोई बेटे को पीएम प्रोजेक्ट करने में लगा है, तो कोई बेटा-भतीजा को सीएम बनाने के लिए बेचैन है। ये लोग देश की सेवा क्या करेंगे? 

"नरेंद्र मोदी का मुकाबला नहीं कर पाएगा इंडी गठबंधन"
सुशील मोदी ने कहा कि देश की 140 करोड़ जनता को ही परिवार मान कर गरीब, युवा, महिला और किसानों के विकास के लिए दिन-रात काम करने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का इंडी गठबंधन कभी मुकाबला नहीं कर पाएगा। उन्होंने कहा कि परिवारवाद और भ्रष्टाचार में डूबी राजनीति के चलते यूपीए के दस साल में कोल ब्लॉक, 2 जी स्पेक्ट्रम जैसे करोड़ो रुपए के घोटाले हुए, जबकि "राष्ट्र पहले" की नीति और गरीबों-पिछड़ों की मदद की नेक नीयती वाली एनडीए सरकार के दस साल में भ्रष्टाचार का एक भी आरोप नहीं लगा। 25 करोड़ लोग गरीबी रेखा से ऊपर आए।

पूर्व उपमुख्यमंत्री ने कहा कि भ्रष्टाचार के विभिन्न मामलों में कांग्रेस-राजद का परिवारवादी नेतृत्व जमानत पर चल रहा है। दोनों दल अपने-अपने राजकुमारों को यात्राओं की नौटंकी से लांच करने में लगे हैं। यदि इसका कोई असर होता तो तीन बड़े हिंदी भाषी राज्यों में कांग्रेस की हार न होती।

Related Story

Trending Topics

Afghanistan

134/10

20.0

India

181/8

20.0

India win by 47 runs

RR 6.70
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!