केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा- चीन से डरती थी UPA सरकार, राष्ट्रीय हितों से किया गया था समझौता

Edited By Ramanjot, Updated: 04 Jun, 2022 12:01 PM

upa government was afraid of china ravi shankar prasad

रविशंकर ने कहा कि प्रधानमंत्री के रूप में नरेंद्र मोदी के उदय के साथ परिदृश्य बदल गया है। उन्होंने भारत की विदेश नीति का हवाला देते हुए कहा कि अब भारत स्वयं नीति तय करता है। उन्होंने कहा, ‘‘भारत न तो अमेरिका से, और न ही रूस से बात कर, बल्कि स्वयं ही...

पटनाः वरिष्ठ भाजपा नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने शुक्रवार को आरोप लगाया कि पिछली कांग्रेस नीत संप्रग सरकार हमेशा चीन से घबराया करती थी और उसके समय राष्ट्रीय हितों से समझौता किया गया।

रविशंकर ने कहा कि प्रधानमंत्री के रूप में नरेंद्र मोदी के उदय के साथ परिदृश्य बदल गया है। उन्होंने भारत की विदेश नीति का हवाला देते हुए कहा कि अब भारत स्वयं नीति तय करता है। उन्होंने कहा, ‘‘भारत न तो अमेरिका से, और न ही रूस से बात कर, बल्कि स्वयं ही अपना हित देखता है। यूक्रेन में जब देश के छात्र फंसे थे तो वह विदेश नीति का ही प्रभाव था कि उन्हें तीन घंटे युद्ध रोकना पड़ा।'' राजग के सत्ता में आठ साल पूरे होने पर यहां एक संवाददाता सम्मेलन में रविशंकर ने अपना अनुभव याद किया जब भाजपा विपक्ष में थी और वह पार्टी प्रतिनिधिमंडल के हिस्से के रूप में जम्मू-कश्मीर का दौरा किया करते थे। उन्होंने कहा कि एक समय था जब सीमा पर चीन के कारण सरकार की नीति सड़क बनाने की नहीं थी परंतु आज सीमा पर धड़ल्ले से सड़कें बन रही हैं।

रविशंकर ने भाजपा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष नितिन गडकरी के कार्यकाल के दौरान जम्मू-कश्मीर में वहां की स्थिति का जायजा लेने के दौरे का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘लद्दाख में मुझे सेना के अधिकारियों से पता चला कि जब भी हमारी तरफ से कोई सड़क निर्माण परियोजना ली जाती थी तो सीमा पार चीनी सैनिक आपत्ति जताते थे जिसके कारण उसे ठंडे बस्ते में डाल दिया जाता था।'' रविशंकर ने दावा किया कि उस समय जब उन्होंने राज्यसभा में इस मामले को उठाने की कोशिश की तो सरकार बार-बार कृपया इस मामले को न उठाने की गुहार लगाती रही। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे पीछे हटना पड़ा लेकिन अब स्थिति बदल गई है। जब से हमने उरी सर्जिकल स्ट्राइक और बालाकोट एयर स्ट्राइक के जरिए मुंहतोड़ जवाब दिया है तब से पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर में शरारत नहीं कर पाया है।''

रविशंकर ने जोर देते हुए कहा कि जो काम पूर्व की सरकारें किसी कारण लटकाई हुई थी, उन सभी मामलों को सुलझाया गया। उन्होंने कहा कि अदालत के आदेश से अयोध्या में राममंदिर निर्माण का कार्य प्रारंभ है तो महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए तीन तलाक को समाप्त किया गया, इतना ही नहीं जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 को समाप्त कर दिया गया।

Related Story

Trending Topics

Ireland

India

Match will be start at 28 Jun,2022 10:30 PM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!