झारखंड में मानसून की बारिश में दर्ज की गई 44 प्रतिशत की कमी: मौसम विभाग

Edited By Diksha kanojia, Updated: 25 Jun, 2022 11:14 AM

44 shortfall in monsoon rains meteorological department

इसके बाद बारिश की तीव्रता में कमी आयी और शुक्रवार को कमी बढ़कर 44 प्रतिशत तक हो गयी। राज्य में इस दौरान 132.2 मिलीमीटर की सामान्य बारिश के मुकाबले एक से 24 जून तक 74.6 मिलीमीटर बारिश हुई। रांची मौसम विज्ञान केंद्र के प्रभारी अभिषेक आनंद ने...

रांचीः झारखंड में मानसून की बारिश में शुक्रवार को 44 फीसदी की कमी दर्ज की गयी और सात जिले 60 प्रतिशत से अधिक की कमी का सामना कर रहे हैं। मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि जब 18 जून को झारखंड में मानसून पहुंचा तो बारिश की कुल कमी 50 प्रतिशत थी। राज्य में अच्छी बारिश होने के कारण 22 जून को बारिश की कमी 39 फीसदी पर आ गयी।

इसके बाद बारिश की तीव्रता में कमी आयी और शुक्रवार को कमी बढ़कर 44 प्रतिशत तक हो गयी। राज्य में इस दौरान 132.2 मिलीमीटर की सामान्य बारिश के मुकाबले एक से 24 जून तक 74.6 मिलीमीटर बारिश हुई। रांची मौसम विज्ञान केंद्र के प्रभारी अभिषेक आनंद ने ‘पीटीआई-भाषा' को बताया, ‘‘झारखंड में मानसून के देरी से आने के कारण बारिश की कमी दिख रही है। मौसमी बरसात की मात्रा एक जून से गिनी जाती है जबकि मानसून राज्य में 18 जून को आया था। यह कमी जून में जारी रह सकती है लेकिन जुलाई में स्थिति में सुधार होगा।'' उन्होंने कहा, ‘‘झारखंड में मानसून में प्रगति सामान्य है, न तो मजबूत और न ही कमजोर है। बारिश की तीव्रता हवा की प्रवृत्ति में बदलाव और बंगाल की खाड़ी से नमी आने के कारण 27 जून से बढ़ सकती है।''

एक मौसम बुलेटिन के अनुसार, गढ़वा और चतरा जिलों में सबसे अधिक क्रमश: 88 फीसदी और 86 फीसदी की कमी दर्ज की गयी है जबकि खूंटी, हजारीबाग, पलामू, रामगढ़ और साहिबगंज में बारिश में 60 प्रतिशत से अधिक की कमी दर्ज की गयी। पिछले 24 घंटे में लातेहर जिले में सबसे अधिक 38 मिमी. और इसके बाद डाल्टनगंज में 22.2 मिमी. बारिश हुई। बहरहाल, कृषि विशेषज्ञों ने कहा कि बारिश कमजोर है लेकिन इसका खरीफ की फसलों पर ज्यादा असर नहीं पड़ेगा। उन्होंने किसानों को बरसाती फसलों के लिए अपने खेतों को तैयार रखने का सुझाव दिया।

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!