पूजा सिंघल की गिरफ्तारी के बाद हेमंत सरकार का भाजपा पर हमला, कहा- इनकी स्थिति ‘चोर मचाए शोर' की है

Edited By Diksha kanojia, Updated: 12 May, 2022 02:13 PM

hemant government attack on bjp after the arrest of pooja singhal

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने बुधवार शाम मीडिया से बातचीत में कहा, ‘‘भाजपा और केन्द्र सरकार की स्थिति ऐसी है जिसे हमारे यहां कहा जाता है, ‘‘चोर मचाये शोर।'''' मुख्यमंत्री और राज्य का खान मंत्री रहते अपने नाम स्वयं रांची में खनन पट्टा आवंटित करवाने के...

रांचीः झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने आज करोड़ों रुपये के भ्रष्टाचार के मामले में खनन सचिव वरिष्ठ प्राशासनिक अधिकारी पूजा सिंघल की गिरफ्तारी के बाद अपनी पहली प्रतिक्रिया में केन्द्र सरकार पर हमलावर अंदाज में दो टूक कहा, ‘‘चोर मचाये शोर।''

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने बुधवार शाम मीडिया से बातचीत में कहा, ‘‘भाजपा और केन्द्र सरकार की स्थिति ऐसी है जिसे हमारे यहां कहा जाता है, ‘‘चोर मचाये शोर।'' मुख्यमंत्री और राज्य का खान मंत्री रहते अपने नाम स्वयं रांची में खनन पट्टा आवंटित करवाने के चलते ‘लाभ के पद' मामले में चुनाव आयोग की नोटिस का सामना कर रहे मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने बड़े तल्ख स्वर में कहा, ‘‘राज्य की पिछली सरकारों के समय के भ्रष्टाचार के मामलों में ऐसा शोर मचाया जा रहा है जैसे यह उनके कार्यकाल से जुड़ा हो। वास्तव में इसे कहा जाता है, ‘चोर मचाये शोर'।''

हेमंत सोरेन ने पूजा सिंघल की गिरफ्तारी के बारे में पूछे जाने पर अपनी पूर्ववर्ती रघुवर दास की सरकार पर हमला बोलते हुए कहा, ‘‘पिछली सरकारों में जिन लोगों को क्लीनचिट दी गयी आज उन्हीं के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोप लगाये जा रहे हैं और उन्हें गिरफ्तार किया जा रहा है।'' सोरेन ने कहा, ‘‘पिछली सरकारों ने ऐसे अधिकारियों और उनके भ्रष्टाचार पर नजर रखी होती और कार्रवाई की होती तो आज ऐसे हालात नहीं होते। राज्य में इस तरह गरीबी की स्थिति नहीं होती।'' इससे पूर्व आज शाम लगभग पांच बजे भारतीय प्राशासनिक सेवा (आईएएस) की 2000 बैच की अधिकारी पूजा सिंघल को तीन दिनों की लंबी पूछताछ के बाद प्रवर्तन निदेशालय ने गिरफ्तार कर लिया। उन पर जिस मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने कार्रवाई की है वह खूंटी जिले में उपायुक्त के रूप में कार्यकाल के दौरान मनरेगा में किये गये कथित भ्रष्टाचार से जुड़ा है।

प्रवर्तन निदेशालय के सूत्रों ने बताया कि सिंघल एवं उनके दूसरे पति अभिषेक झा अपने चार्टर्ड एकाउंटेंट सुमन सिंह के यहां से बरामद 17 करोड़ रुपये से अधिक की नकदी के बारे में कोई संतोषजनक जवाब नहीं दे सके, जबकि ऐसा माना जाता है कि सिंघल की अवैध कमाई का धन उनके सीए सुमन सिंह ही शेल कंपनियों के माध्यम से जगह-जगह निवेश किया करते थे। यह पूछे जाने पर कि राज्य सरकार गिरफ्तारी के बाद पूजा सिंघल पर क्या कार्रवाई करेगी, मुख्यमंत्री सोरेन ने कहा, ‘‘राज्य सरकार शीघ्र उचित कार्रवाई करेगी।'' हेमंत सोरेन ने कहा, ‘‘अब तो भारतीय जनता पार्टी की यह स्थिति आ गयी है कि उन्हें अपनी ही सरकार के कार्यकाल पर सवाल उठाना चाहिए और अपना आईना देखना चाहिए।''

खनन सचिव के भ्रष्टाचार के बारे में पूछे जाने पर सोरेन ने कहा, ‘‘यह सब काम हमें नहीं आता है यह सब काम तो भारतीय जनता पार्टी को ही आता है।'' उन्होंने कहा, ‘‘आपने हमारी सरकार के ढाई वर्ष के कार्यकाल को देखा होगा, चाहे शिक्षा का क्षेत्र हो, चाहे राज्य के संसाधनों को बढ़ाने का काम, या राज्य में झारखंड लोक सेवा आयोग की परीक्षाएं कराने का काम हो, सब कुछ सफलतापूर्वक किया जा रहा है।'' यह पूछे जाने पर कि चुनाव आयोग ने उनसे खनन पट्टा अपने नाम आवंटित कराने के बारे में जो सवाल पूछे हैं उन पर वह क्या कहेंगे, हेमंत सोरेन ने कहा, ‘‘वह जवाब मैं चुनाव आयोग को ही दूंगा।'' 

Related Story

Trending Topics

Indian Premier League
Rajasthan Royals

Chennai Super Kings

Match will be start at 20 May,2022 07:30 PM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!