IRB जवान सुशील कुमार की गोली लगने से मौत; परिजनों ने जताई हत्या की आशंका, शव लेने से किया इनकार

Edited By Khushi, Updated: 29 Sep, 2022 10:38 AM

irb jawan sushil kumar dies of bullet injury relatives expressed fear of murder

बोकारो: झारखंड के बोकारो जिले में IRB जवान सुशील कुमार की गोली लगने से हुई मौत का मामला दुविधा में फंसा हुआ है। कुछ भी पता नहीं चल पा रहा है कि सुशील कुमार की मौत सुसाइड है या मर्डर है। परिजनों का कहना है कि सुशील कुमार की हत्या हुई है

बोकारो: झारखंड के बोकारो जिले में IRB जवान सुशील कुमार की गोली लगने से हुई मौत का मामला दुविधा में फंसा हुआ है। कुछ भी पता नहीं चल पा रहा है कि सुशील कुमार की मौत सुसाइड है या मर्डर है। परिजनों का कहना है कि सुशील कुमार की हत्या हुई है, जिसके चलते परिजनों ने हत्या की आशंका जताते हुए शव को लेने से इनकार कर दिया है। वहीं, पुलिस ने भी परिजनों की लिखित शिकायत लेने से इनकार कर दिया है। इस मामले में अभी तक ना तो जैप के पदाधिकारियों का कोई बयान सामने आया है और ना ही पुलिस पदाधिकारी का।

भाई की हत्या की गई है
दरअसल, परिजनों के देर रात बोकारो पहुंचने पर पुलिस द्वारा कागजी कार्रवाई शुरू की गई। उपायुक्त द्वारा प्रतिनियुक्त मजिस्ट्रेट ने शव का पोस्टमार्टम करवाया है, लेकिन परिजनों ने शव को लेने से इनकार कर दिया है। मृतक के बड़े भाई का कहना है कि पुलिस के अनुसार जो कहा गया वह फर्द बयान दिया गया, लेकिन पुलिस वाले डीएसपी के फर्द बयान पढ़ने के बाद ही मामला दर्ज होने की बात कहने लगे। मृतक के बड़े भाई ने कहा कि जिस प्रकार से  स्थिति परिस्थिति सामने आई है, ऐसे में हम कह सकते हैं कि भाई की हत्या की गई है क्योंकि हम लोगों को यह बताया गया था कि भाई को बंदूक की सफाई करने के दौरान गोली लगी, लेकिन यहां ड्यूटी में जाने के दौरान गोली लगने की बात सामने आई है। उन्होंने कहा कि हम इस मामले की उच्चस्तरीय जांच की सीएम से मांग करते हैं।

ढाई सौ जवानों को हथियार थमा ड्यूटी पर भेजना सही नहीं
वहीं, झारखंड पुलिस मेंस एसोसिएशन के अध्यक्ष राकेश पांडे ने कहा कि घटना दुखद है, लेकिन जिस प्रकार से प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे जवानों को हथियार दे दिया गया और एक साथ ढाई सौ जवानों को हथियार थमा कर ड्यूटी में भेजा जा रहा था, यह जांच का विषय है क्योंकि जब वह प्रशिक्षण पूरी तरह से प्राप्त नहीं किए हैं तो उन्हें हथियार देना कहीं से भी उचित नहीं है। राकेश पांडे ने कहा कि मामले की जांच की जानी चाहिए। इसको लेकर हम लोग डीजीपी से लेकर सभी अधिकारियों से भी मिलने का काम करेंगे।

Related Story

Bangladesh

India

Match will be start at 10 Dec,2022 01:00 PM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!