बिहार चुनाव: 1066 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला EVM में कैद, जमुई में सबसे अधिक 58% वोटिंग

Edited By Umakant yadav, Updated: 28 Oct, 2020 07:41 PM

bihar elections 1066 candidates  fate decided in evm

बिहार में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच विधानसभा के प्रथम चरण के लिए आज शांतिपूर्ण तरीके से मतदान संपन्न हो गया, जिसमें 55 प्रतिशत से अधिक मतदाताओं ने वोटिंग कर 1066 उम्मीदवारों ...

पटना: बिहार में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच विधानसभा के प्रथम चरण के लिए आज शांतिपूर्ण तरीके से मतदान संपन्न हो गया, जिसमें 55 प्रतिशत से अधिक मतदाताओं ने वोटिंग कर 1066 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) में कैद कर दिया।

राज्य निर्वाचन कार्यालय के अनुसार, बुधवार को 71 विधानसभा सीट के लिए 31380 केंद्रों पर सुबह सात बजे मतदान शुरू हुआ और शाम छह बजे समाप्त हो चुका है। इस दौरान करीब 55 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। हालांकि अभी भी कुछ मतदान केंद्रों पर वोटिंग चल रही है और कुछ स्थानों से अंतिम रिपोर्ट का इंतजार है। शाम छह बजे तक जमुई जिले में सबसे अधिक करीब 58 प्रतिशत वोटिंग हुई जबकि मुंगेर जिले में सबसे कम लगभग 44 प्रतिशत मत पड़े हैं। 

इस बीच बड़हरा से राष्ट्रीय जनता दल (राजद) उम्मीदवार एवं निवर्तमान विधायक सरोज यादव ने आरा के मतदान केंद्र संख्या 115 पर अपने ऊपर हमला होने का दावा किया। उन्होंने कहा कि किसी तरह भागकर उन्होंने अपनी जान बचाई। हालांकि, प्रशासन ने इसकी पुष्टि नहीं की है। बताया जा रहा है कि सरोज का पहले लोगों ने विरोध किया। इसके बाद भीड़ से कुछ लोगों ने पथराव शुरू कर दिया।

इसी तरह भोजपुर जिले के शाहपुर विधानसभा क्षेत्र के सहजौली गांव में राजद प्रत्याशी राहुल तिवारी और निर्दलीय प्रत्याशी बटेश्वर यादव के समर्थकों के बीच बूथ पर कब्जे को लेकर हिंसक झड़प हुई जिसमें दोनों पक्ष के करीब 10 लोग घायल हुए हैं। घायलों में महिलाएं भी शामिल हैं।

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!