निगरानी विभाग की बड़ी कार्रवाईः उद्योग विस्तार पदाधिकारी को 20 हजार रुपए घूस लेते हुए रंगेहाथ पकड़ा

Edited By Swati Sharma, Updated: 24 Nov, 2022 10:54 AM

major action of the monitoring department

दरअसल, निगरानी विभाग की टीम ने उद्योग विस्तार पदाधिकारी हरीश कुमार को बुधवार को उनके बेला स्थित ऑफिस से पकड़ा है। सूत्रों के अनुसार, हरीश कुमार ने करजा थाना क्षेत्र के करजा डीह निवासी नितेश चंद्र रंजन से भुगतान के बदले रिश्वत की मांग की थी। निगरानी...

मुजफ्फरपुरः बिहार के मुजफ्फरपुर जिले में निगरानी विभाग की टीम ने उद्योग विस्तार पदाधिकारी हरीश कुमार को रिश्वत लेते हुए रंगेहाथ पकड़ा है। बताया जा रहा है कि उन्हें मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के दूसरे किस्त के भुगतान के लिए घूस लेते हुए पकड़ा गया है।

दरअसल, निगरानी विभाग की टीम ने उद्योग विस्तार पदाधिकारी हरीश कुमार को बुधवार को उनके बेला स्थित ऑफिस से पकड़ा है। सूत्रों के अनुसार, हरीश कुमार ने करजा थाना क्षेत्र के करजा डीह निवासी नितेश चंद्र रंजन से भुगतान के बदले रिश्वत की मांग की थी। निगरानी विभाग की टीम के द्वारा जिला उद्योग केंद्र बेला में हरीश कुमार को 20 हजार घूस रंगे हाथ लेते पकड़ा गया है। इस पूरे मामले को लेकर निगरानी विभाग के डीएसपी ने जानकारी देते हुए बताया कि मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के तहत नितेश चंद्र रंजन ने उद्योग स्थापित करने को लेकर आवेदन किया था। उसकी पहली किस्त का भुगतान हो चुका था, लेकिन दूसरी किस्त के भुगतान के लिए उद्योग विस्तार पदाधिकारी नितेश से मोटी रकम मांग रहा था। इसके बाद नितेश चंद्र ने बीते 17 नवंबर को पटना निगरानी थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई थी।

वहीं इसके बाद निगरानी डीएसपी के नेतृत्व में एक विशेष टीम का गठन किया गया। टीम ने विस्तार पदाधिकारी के बेला स्थित ऑफिस से उन्हें घूस लेते हुए रंगेहाथ पकड़ लिया। निगरानी विभाग की टीम हरीश कुमार को अपने साथ पटना ले गई है, जहां पर पूछताछ के बाद उन्हें न्यायालय के समक्ष में प्रस्तुत किया जाएगा।

Related Story

Bangladesh

India

Match will be start at 10 Dec,2022 01:00 PM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!