निर्धारित तिथि से एक दिन पहले अनिश्चितकाल के लिए स्थगित हुई झारखंड विधानसभा की कार्यवाही

Edited By Nitika, Updated: 04 Aug, 2022 04:25 PM

jharkhand assembly proceedings adjourned sine die

झारखंड विधानसभा के अध्यक्ष रबीन्द्रनाथ महतो ने मॉनसून सत्र की कार्यवाही को अपने निर्धारित तिथि से एक दिन पहले ही गुरुवार को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित करने की घोषणा की।

 

रांचीः झारखंड विधानसभा के अध्यक्ष रबीन्द्रनाथ महतो ने मॉनसून सत्र की कार्यवाही को अपने निर्धारित तिथि से एक दिन पहले ही गुरुवार को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित करने की घोषणा की।

इससे पहले मॉनसून सत्र के पांचवें दिन सदन ने 3 विधेयकों को मंजूरी प्रदान की। इस सत्र की कार्यवाही 5 अगस्त तक निर्धारित थी, शुक्रवार को प्रश्नोत्तरकाल के अलावा गैर सरकारी संकल्पों को पेश किया जाना था, परंतु एक दिन पहले ही सत्र की कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दी गई। भोजनावकाश के बाद सभा की कार्यवाही दोपहर 2 बजे शुरू होने पर सरकार की ओर से 3 विधेयकों को सदन में पेश किया गया, जिसे ध्वनिमत से मंजूरी प्रदान कर दी गई। सभा में आज यानी गुरुवार को जिन 3 विधेयकों को मंजूरी प्रदान की गई, उनमें कौशल विद्या, उद्यमिता, डिजिटल एवं स्किल विश्वविद्यालय विधेयक 2022, अजीम प्रेमजी विश्वविद्यालय विधेयक 2022 और झारखंड उत्पाद संशोधन विधेयक 2022 शामिल है। तीनों विधेयकों के पारित होने के बाद विधानसभा अध्यक्ष रबींद्र नाथ महतो ने सभा की कार्यवाही को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित किए जाने की घोषणा की गई।

इससे पहले पहली पाली में प्रश्नोत्तरकाल शुरू होने पर विधानसभा अध्यक्ष ने भाजपा के चार निलंबित सदस्यों के निलंबन को वापस लेने की घोषणा की, वहीं विधानसभा में प्रश्नोत्तरकाल के दौरान सरकार की ओर से पक्ष-विपक्ष के कई सवालों पर जवाब दिया गया। जबकि वित्तमंत्री डॉ. रामेश्वर उरांव ने भारत की नियंत्रक-महालेखा परीक्षक का झारखंड राज्य के सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यमों सहित सामान्य, सामाजिक, आर्थिक एवं राजस्व प्रक्षेत्रों का लेखा परीक्षा प्रतिवेदन की एक प्रति सभा पटल पर रखी।

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!