NTPC बाढ़ ने 660 मेगावाट की दूसरी इकाई का किया बॉयलर लाइट-अप परीक्षण

Edited By Ramanjot, Updated: 29 May, 2022 11:42 AM

ntpc flood tested the second unit of 660 mw boiler light up

क्षेत्रीय कार्यकारी निदेशक (पूर्व-1), शीतल कुमार और मुख्य महाप्रबंधक (बाढ़) असित दत्ता ने महत्वपूर्ण उपलब्धि हासिल करने के लिए बाढ़ टीम को बधाई दी है। मुख्य महाप्रबंधक सह परियोजना प्रमुख, बाढ़ असित दत्ता ने कहा कि प्रथम चरण की इकाई एक पहले से ही...

पटनाः सार्वजनिक क्षेत्र की देश की सबसे बड़ी उर्जा कंपनी राष्ट्रीयता विद्युत निगम (एनटीपीसी) लिमिटेड बाढ़ ने 660 मेगावाट की दूसरी इकाई के लिए शनिवार को बॉयलर लाइट-अप परीक्षण सफलतापूर्वक संपन्न कर लिया।

क्षेत्रीय कार्यकारी निदेशक (पूर्व-1), शीतल कुमार और मुख्य महाप्रबंधक (बाढ़) असित दत्ता ने महत्वपूर्ण उपलब्धि हासिल करने के लिए बाढ़ टीम को बधाई दी है। मुख्य महाप्रबंधक सह परियोजना प्रमुख, बाढ़ असित दत्ता ने कहा कि प्रथम चरण की इकाई एक पहले से ही बिजली का वाणिज्यिक उत्पादन कर रही है और 12 नवंबर 2021 से बिहार और अन्य लाभार्थी राज्यों को 402 मेगावाट बिजली की आपूर्ति कर रही है।

उल्लेखनीय है कि एनटीपीसी बाढ़ बिहार के पटना जिले में स्थित एक पर्यावरण अनुकूल सुपर क्रिटिकल प्रौद्योगिकी आधारित बिजली परियोजना है। 660 मेगावाट की तीन इकाइयां, जिनमें कुल 1980 मेगावाट विद्युत का उत्पादन पहले से ही हो रहा है। द्वितीय चरण की इकाई चार से उत्पादन 15 नवंबर, 2014 और इकाई पांच से 18 फरवरी 2016 से उत्पादन शुरू हुआ है।

बाढ़ चरण- ढ्ढढ्ढ (1320 मेगावाट में से 1198.6 मेगावाट) और चरण- ढ्ढ (660 मेगावाट में से 401.98 मेगावाट) से बिहार को क्रमश: 90.8 प्रतिशत और 60.91 प्रतिशत बिजली आवंटित की गई। वर्तमान में बिहार को बाढ़ संयंत्र से लगभग 1600 मेगावाट बिजली मिल रही है। इस तरह एनटीपीसी स्टेशनों से बिहार को बिजली का आवंटन 5361 मेगावाट किया गया है।

Related Story

Trending Topics

Ireland

221/5

20.0

India

225/7

20.0

India win by 4 runs

RR 11.05
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!