राज्यपाल रमेश बैस ने हिन्दी और अंग्रेजी संस्करण में भिन्नता के चलते एक और विधेयक लौटाया

Edited By Diksha kanojia, Updated: 18 May, 2022 09:31 AM

governor ramesh bais returned another bill due to the difference

राज्यपाल ने विधेयक को इस आपत्ति के साथ वापस भेजा है कि इसके हिन्दी और अंग्रेजी संस्करण में पाई गई विसंगतियों को सुधारकर विधेयक पुनः मुद्रण के पश्चात विधानसभा द्वारा फिर से पारित कराकर उनकी सहमति प्राप्त करने के लिए भेजा जाए। इस विधेयक के खिलाफ राज्य...

रांचीः झारखंड के राज्यपाल रमेश बैस ने झारखंड विधानसभा द्वारा मार्च में संपन्न बजट सत्र में पारित “झारखंड राज्य कृषि उपज और पशुधन विपणन (संवर्धन और सुविधा) विधेयक, 2022” के हिन्दी और अंग्रेजी संस्करण में भिन्नता होने के कारण इसे राज्य सरकार को वापस भेज दिया है।

राज्यपाल ने विधेयक को इस आपत्ति के साथ वापस भेजा है कि इसके हिन्दी और अंग्रेजी संस्करण में पाई गई विसंगतियों को सुधारकर विधेयक पुनः मुद्रण के पश्चात विधानसभा द्वारा फिर से पारित कराकर उनकी सहमति प्राप्त करने के लिए भेजा जाए। इस विधेयक के खिलाफ राज्य के व्यापारिक संगठन पहले ही आंदोलित थे लिहाजा उन्होंने राजभवन से राज्य सरकार को विधेयक वापस किये जाने के बाद फिलहाल अपना आंदोलन स्थगित कर दिया है।

राजभवन के प्रवक्ता ने विधेयक को राज्य सरकार को लौटाए जाने की जानकारी मंगलवार शाम को दी। ज्ञातव्य है कि इससे पूर्व भी राज्यपाल रमेश बैस द्वारा कई विधेयकों को हिन्दी और अंग्रेजी संस्करण में भिन्नता पाए जाने के कारण राज्य सरकार को वापस भेजा जा चुका है।

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!