CM नीतीश बिहार लोक सेवा आयोग के 75वें स्थापना दिवस समारोह में हुए शामिल, बोले- 20 लाख युवाओं को देंगे ’रोजगार-नौकरी’

Edited By Swati Sharma, Updated: 01 Apr, 2023 04:09 PM

cm attended 75th foundation celebrations of bihar public service commission

मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार लोक सेवा आयोग में एक अध्यक्ष के साथ पहले 10 सदस्य हुआ करते थे लेकिन बिहार से झारखंड के अलग होने के बाद बिहार लोक सेवा आयोग में अध्यक्ष के साथ सदस्यों की संख्या छह कर दी गई। अभी छह सदस्यों में से तीन ही सदस्य कार्यरत् हैं।...

पटना: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज अधिवेशन भवन में बिहार लोक सेवा आयोग की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम का दीप प्रज्ज्वलित कर उद्घाटन किया। इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि सबसे पहले मैं बिहार लोक सेवा आयोग के 75वें स्थापना दिवस पर बधाई एवं शुभकामनाएं देता हूं। बिहार लोक सेवा आयोग की स्थापना1 अप्रैल, 1949 में हुई थी जिसका मुख्यालय रांची में था लेकिन वर्ष 1951 में इसका मुख्यालय रांची से पटना स्थानांतरित किया गया। 

PunjabKesari

"बिहार लोक सेवा आयोग को कोई समस्या न हो इसका ध्यान रखें" 
मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार लोक सेवा आयोग में एक अध्यक्ष के साथ पहले 10 सदस्य हुआ करते थे लेकिन बिहार से झारखंड के अलग होने के बाद बिहार लोक सेवा आयोग में अध्यक्ष के साथ सदस्यों की संख्या छह कर दी गई। अभी छह सदस्यों में से तीन ही सदस्य कार्यरत हैं। 3 सदस्य सेवानिवृत्त हुए हैं जिनका स्थान रिक्त है उन स्थानों पर नए सदस्यों का शीघ्र मनोनयन किया जाए। अगले पांच दिनों के अंदर इस काम को पूरा कर लिया जाए। जबसे हमको यहां काम करने का मौका मिला है अनुभवी और रिटायर्ड आई०ए०एस० अधिकारियों को इसकी जिम्मेवारी दी गई है। लोक सेवा आयोग में किसी भी प्रकार की दिक्कत आती है तो सरकार को सूचित कीजिए, ताकि उन कमियों को समय पर पूरा किया जा सके। बिहार लोक सेवा आयोग को किसी प्रकार की कोई समस्या न हो इसका ध्यान रखें। कर्नाटक लोक सेवा आयोग तथा असम लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष भी यहां पधारे हुये हैं, यह बहुत खुशी की बात है। मैं सभी का स्वागत करता हूं। 

PunjabKesari

20 लाख युवाओं को देंगे ’रोजगार-नौकरी’
सीएम ने कहा कि बिहार राज्य कर्मचारी चयन आयोग, बिहार विश्वविद्यालय सेवा आयोग जैसे आयोगों के माध्यम से भी कई कार्य किये जा रहे हैं। आयोग में किसी प्रकार की कोई गड़बड़ी नहीं होती है इस बात की बहुत खुशी है। एक बार पेपर लीक का मामला सामने आया तो उस परीक्षा को कैंसिल करवाकर फिर से शीघ्र परीक्षा ली गई थी। पिछले 18 वर्षों से विभिन्न पदों पर 24 हजार 301 नियुक्ति की गई है और 45 हजार 892 पदों पर नियुक्ति की कार्रवाई चल रही है। 40 हजार 506 हेडमास्टर साहब का काम भी तेजी से की जानी चाहिए। राज्य सरकार हर तरह से सहयोग करने के लिए तैयार है। अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अति पिछड़ा वर्ग के अभ्यर्थी संघ लोक सेवा आयोग की प्रारंभिक परीक्षा पास करते हैं तो उन्हें एक लाख रुपये तथा बिहार लोक सेवा आयोग की प्रारंभिक परीक्षा पास करते हैं तो उन्हें 50 हजार रुपये की राशि दी जाती है ताकि वे आगे की परीक्षा की तैयारी बेहतर ढंग से कर सकें। 

PunjabKesari

"10 लाख युवाओं को नौकरी देने का काम तेजी से करें": सीएम
मुख्यमंत्री ने कहा कि 10 लाख युवाओं को नौकरी और 10 लाख लोगों को रोजगार के लिए हमने कहा है उसके लिए तेजी से काम करें। परीक्षा में किसी भी प्रकार की कोई गड़बड़ी न हो इसका ध्यान रखिएगा। जिन लोगों को परीक्षा कार्य की जिम्मेवारी मिलती है वे इस बात का ध्यान रखें कि परीक्षा कार्य का संचालन बेहतर और पारदर्शी ढंग से हो। कार्य पूरी ईमानदारी से करें ताकि कोई गड़बड़ी न कर सके। उन्होंने कहा कि बिहार लोक सेवा आयोग का यह 75वां साल है इसका और विस्तार हो और जिम्मेदारी सौंपी जाए ताकि और बेहतर ढंग से काम हो सके। बिहार लोक सेवा आयोग को जो भी आवश्यकता है, सरकार इसमें सहयोग करेगी। बिहार लोक सेवा आयोग के पूर्व अध्यक्ष सहित अन्य गणमान्य लोग भी यहां उपस्थित हैं। बाहर से आए अतिथियों और जो पुराने लोग आए हैं सबका मैं अभिनंदन करता हूं।

PunjabKesari

 

Related Story

Trending Topics

Afghanistan

134/10

20.0

India

181/8

20.0

India win by 47 runs

RR 6.70
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!