पटना में जलजमाव की समस्या हुई कम, नगर निगम की त्वरित कार्यशैली से न्यूनतम समय में हो रही जलनिकासी

Edited By Ramanjot, Updated: 23 Jul, 2022 02:31 PM

drainage being done in minimum time in patna

दरअसल, राजेंद्र नगर, मीठापुर, करबिगहिया, द्वारिकापुरी, बाईपास, दीघा, पाटलिपुत्र कॉलोनी, गांधी मैदान सहित कई निचले इलाकों में भी एक से दो घंटों के अंतराल में जल निकासी कर दी जा रही है। गौरतलब है कि पटना नगर निगम क्षेत्र में अब तक 140.2 एमएम की बारिश...

पटनाः मानसून के दौरान प्रतिदिन पटना के इलाकों में बरसात हो रही है लेकिन पटना नगर निगम की त्वरित कार्यवाही एवं अलर्ट मोड में पदाधिकारियों के रहने के कारण इलाकों में जलजमाव की समस्या नहीं हो रही है। शुक्रवार को भी पटना के विभिन्न इलाकों में हुई बरसात के बाद न्यूनतम समय में जल निकासी कर ली गई है।

PunjabKesari

दरअसल, राजेंद्र नगर, मीठापुर, करबिगहिया, द्वारिकापुरी, बाईपास, दीघा, पाटलिपुत्र कॉलोनी, गांधी मैदान सहित कई निचले इलाकों में भी एक से दो घंटों के अंतराल में जल निकासी कर दी जा रही है। गौरतलब है कि पटना नगर निगम क्षेत्र में अब तक 140.2 एमएम की बारिश (29 से 30 जून) के दौरान भी आम नागरिकों को किसी तरह की परेशानी नहीं होने दिया गया है। पटना नगर निगम का कहना है कि अधिकांश इलाकों में बरसात के 2 घंटे के अंदर जलनिकासी पूर्ण हो जा रही है, लेकिन यह देखा जा रहा है कि कई समाचार पत्रों में झूठी एवं भ्रामक तस्वीरों का उपयोग कर गलत संदेश फैलाया जा रहा है। इलाकों में जलजमाव ना होने के बाद भी उसे जलमग्न दिखाया जा रहा है यह पूरी तरह से गलत है। नगर निगम ने अपील की है कि समाचार पत्रों में वास्तविक स्थिति को दर्शाया जाए।

PunjabKesari

24 घंटे एक्टिव है क्यूआरटी
बरसात के बाद किसी इलाके में जलजमाव की समस्या होने पर क्यूआरटी द्वारा 1 घंटे में स्थिति को बेहतर बनाया जा रहा है। ऐसे में आमजनों से भी अपील की जा रही है कि अगर उनके इलाके में कोई भी समस्या है तो वह 155304 पर अपनी शिकायत दर्ज करें। पटना नगर निगम द्वारा उनकी समस्या को कुछ घंटों में ही दूर किया जाएगा। हेल्पलाइन एवं क्यूआरटी 24 घंटे एक्टिव है।

PunjabKesari

संप हाउस पर लगातार रखी जा रही है नजर
पटना नगर निगम द्वारा शहर के सभी संप हाउस पर तीनों पालियों में कर्मियों की तैनाती की गई है इसके साथ ही सीसीटीवी के माध्यम से लगातार वाटर लेवल के इनलेट एवं आउटलेट की निगरानी की जा रही है। इसके साथ ही पटना नगर निगम के सभी अंचलों में मशीनों द्वारा जलनिकासी के लिए वैकल्पिक व्यवस्था भी उपलब्ध करवाई गई है। जलजमाव से निपटने के लिए पटना नगर निगम के पास पर्याप्त इंतजाम है।

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!