'बहनों से ED वालों ने उतरवा लिए थे गहने', आरोप लगा बोले तेजस्वी- मेरे पास से ठेंगा मिला, हम असल समाजवादी लोग हैं

Edited By Khushi, Updated: 14 Mar, 2023 12:31 PM

ed people had taken off the ornaments from the sisters

जमीन के बदले नौकरी मामले में लालू यादव समेत उनका पूरा परिवार सीबीआई और ईडी के नजर में है। पिछले कई दिनों से उनके घर लगातार छापेमारी की जा रही है।

पटना: जमीन के बदले नौकरी मामले में लालू यादव समेत उनका पूरा परिवार सीबीआई और ईडी के नजर में है। पिछले कई दिनों से उनके घर लगातार छापेमारी की जा रही है। इसके चलते राज्य के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने ईडी पर आरोप लगाया कि ईडी ने पिछले हफ्ते उनके दिल्ली स्थित आवास पर आधे घंटे में छापेमारी खत्म कर दी थी, लेकिन ईडी के अधिकारी ऊपर से आदेश मिलने की प्रतीक्षा करते हुए घर में ही रुके रहे।

तेजस्वी यादव ने ED पर लगाए आरोप
तेजस्वी का आरोप है कि उनकी विवाहित बहनों और उनके ससुराल वालों के इस्तेमाल किए हुए गहनों की तस्वीरें प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों ने खींची। बाद में इन्हीं गहनों को बरामदगी के तौर पर दिखाया गया। तेजस्वी ने अपराध से अर्जित 600 करोड़ रुपये के बारे में पता चलने के ईडी के दावे को भी खारिज कर दिया।तेजस्वी ने कहा कि “2017 में भी इसी अंदाज में उन्होंने ऐसा किया था। लोग कह रहे हैं, मेरे पास से बहुत दौलत बरामद हुई है। ईडी को ‘ठेंगा मिला है’। मैं उन्हें चुनौती दे सकता हूं, ये जो प्रचार कर रहे हैं, झूठा प्रचार कर रहे हैं। जैसे पता नहीं, असली अडानी मैं ही हूं।” इतना ही नहीं तेजस्वी यादव ने मीडिया को भी ‘जमीन के बदले नौकरी मामले’ पर खरी- खोटी सुनाई। तेजस्वी ने कहा, “अभी खबर चलाएंगे, ये मिला, वो मिला। सब शेर जैसा दहाड़ेंगे। दस दिन बाद म्यांऊ। सब शांत हो जाएगा।”

क्या है लैंड फॉर जॉब स्कैम?
लैंड फॉर जॉब स्कैम का यह केस 14 साल पुराना है। ये घोटाला उस वक्त का है, जब लालू यादव रेल मंत्री थे। दावा है कि लालू यादव ने रेल मंत्री रहते हुए रेलवे में लोगों को नौकरी देने के बदले उनकी जमीन लिखवा ली थी। सीबीआई ने इस मामले में 18 मई को केस दर्ज किया था। सीबीआई के मुताबिक, लोगों को पहले रेलवे में ग्रुप डी के पदों पर सब्स्टीट्यूट के तौर पर भर्ती किया गया और जब उनके परिवार ने जमीन का सौदा किया, तब उन्हें रेगुलर कर दिया गया। सीबीआई का कहना है कि पटना में लालू यादव के परिवार ने 1.05 लाख वर्ग फीट जमीन पर कथित तौर पर कब्जा कर रखा है। इन जमीनों का सौदा नकद में हुआ था। वहीं, प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने जमीन घोटाला मामले में हो रही जांच के सिलसिले में बीते शुक्रवार को लालू प्रसाद यादव के परिवार, रिश्तेदार और राजद नेताओं के परिसरों पर बिहार सहित कई शहरों में छापेमारी की थी। एजेंसी के सूत्रों ने बताया कि छापेमारी के दौरान 53 लाख रुपये कैश, 1,900 अमेरिकी डॉलर, लगभग 540 ग्राम सोना और 1.5 किलोग्राम सोने के आभूषण जब्त किए गए। छापेमारी की इस कार्रवाई के दौरान बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव मौजूद रहे।

Related Story

Trending Topics

Afghanistan

134/10

20.0

India

181/8

20.0

India win by 47 runs

RR 6.70
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!