बिहार पुलिस ने झारखंड के देवघर से NEET ‘पेपर लीक' मामले में छह लोगों को हिरासत में लिया

Edited By Nitika, Updated: 23 Jun, 2024 08:22 AM

6 people arrested in neet paper leak case

बिहार पुलिस ने मेडिकल प्रवेश परीक्षा ‘नीट' में कथित अनियमितताओं के मामले में झारखंड के देवघर जिले से छह लोगों को हिरासत में लिया है। शनिवार को एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि शुक्रवार की रात देवीपुरा पुलिस थानाक्षेत्र के अंतर्गत अखिल...

 

देवघर/पटनाः बिहार पुलिस ने मेडिकल प्रवेश परीक्षा ‘नीट' में कथित अनियमितताओं के मामले में झारखंड के देवघर जिले से छह लोगों को हिरासत में लिया है। शनिवार को एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि शुक्रवार की रात देवीपुरा पुलिस थानाक्षेत्र के अंतर्गत अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स), देवघर के समीप एक घर से उन्हें हिरासत में लिया।
PunjabKesari
अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी (देवघर सदर) ऋत्विक श्रीवास्तव ने बताया, ‘‘बिहार पुलिस ने हमें सूचना दी थी। हमारी पहचान के आधार पर संदिग्धों को हिरासत में लिया गया। सभी संदिग्धों को बिहार ले जाया गया है।'' उन्होंने बताया कि संदिग्ध कथित तौर पर झुनू सिंह नाम के व्यक्ति के घर पर रह रहे थे। देवघर पुलिस द्वारा जारी बयान के अनुसार, संदिग्धों की पहचान परमजीत सिंह उर्फ बिट्टू, चिंटू उर्फ बलदेव कुमार, काजू उर्फ प्रशांत कुमार, अजीत कुमार, राजीव कुमार उर्फ कारू और पंकू कुमार के रूप में हुई है। ये सभी बिहार के नालंदा जिले के निवासी हैं। राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (एनटीए) ने पांच मई को नीट-यूजी की परीक्षा आयोजित की थी, जिसमें करीब 24 लाख अभ्यर्थियों ने हिस्सा लिया था। इसके परिणाम चार जून को घोषित किए गए, लेकिन उसके बाद बिहार जैसे राज्यों में प्रश्नपत्र लीक होने के अलावा अन्य अनियमितताओं के आरोप भी लगे। पुलिस ने बताया कि मामले के सिलसिले में शुक्रवार शाम को बिहार से एक जांच दल हजारीबाग पहुंचा।

हजारीबाग अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी (एसडीपीओ) कुमार शिवाशीष ने बताया कि बिहार से एक जांच दल हजारीबाग पहुंचा है। हालांकि, उन्होंने कोई जानकारी साझा नहीं की। उन्होंने बताया कि वे लोहसिंघना थाने गए और वहां के प्रभारी अधिकारी से बातचीत की। टीम ने अपने दौरे के दौरान हजारीबाग से किसी को गिरफ्तार नहीं किया। लोहसिंघना थाने के प्रभारी संदीप कुमार ने बताया कि टीम ने पेपर लीक मामले पर चर्चा की और मामले में ‘कूरियर' की तलाश कर रही है। कथित पेपर लीक मामले के तार कथित तौर पर हजारीबाग से जुड़े होने पर उपायुक्त (डीसी) नैन्सी सहाय ने कहा, “हमें जिला स्तर पर कोई सूचना नहीं मिली है। हालांकि, अगर कुछ हुआ है, तो हम मामले को सुलझाने में निश्चित रूप से मदद देंगे।”

सूत्रों ने बताया कि बिहार पुलिस की टीम ने सदर थाना क्षेत्र के अंतर्गत रांची में एक कूरियर सेवा के कार्यालय में भी जांच की। हालांकि, सदर थाने के प्रभारी कुलदीप कुमार ने बताया कि इस संबंध में उन्हें आधिकारिक तौर पर कोई सूचना नहीं दी गई है। बिहार पुलिस की आर्थिक अपराध इकाई (ईओयू) के एक सूत्र ने बताया, “मामले के सिलसिले में झारखंड के देवघर में छह लोगों को हिरासत में लिया गया है। उन्हें गिरफ्तार घोषित किया जाए या नहीं, यह सबूतों और सुरागों के आधार पर तय किया जाएगा।” उन्होंने कहा, “हम कानून की उचित प्रक्रिया के अनुसार हर संदिग्ध की जांच करेंगे और फिर अंतिम फैसला लेंगे। हम अपनी जांच के तहत किसी भी संदिग्ध से स्पष्टीकरण मांग सकते हैं।”
PunjabKesari
इस बीच, राष्ट्रीय जनता दल (राजद) की झारखंड इकाई ने नीट ‘पेपर लीक' मुद्दे पर शनिवार को रांची में होने वाले अपने विरोध-प्रदर्शन को स्थगित कर दिया है। राजद प्रदेश महासचिव एवं मीडिया प्रभारी कैलाश यादव ने बताया कि पार्टी की महिला प्रकोष्ठ की ओर से प्रश्नपत्र लीक मामले के विरोध में यहां केंद्रीय शिक्षा मंत्री का पुतला फूंका जाना था। उन्होंने कहा, ‘‘हमने इसे स्थगित कर दिया है, क्यूंकि हमने बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन करने का फैसला किया है।''

Related Story

Trending Topics

Afghanistan

134/10

20.0

India

181/8

20.0

India win by 47 runs

RR 6.70
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!