जातीय जनगणना के मामले में एक मिसाल बनने वाला है बिहारः CM नीतीश

Edited By Ramanjot, Updated: 06 Jun, 2022 04:24 PM

bihar is going to be an example in matter of caste census cm nitish

नीतीश कुमार ने कहा है कि जो जनगणना कराई गई उसका ना तो कोई प्रारूप सामने आया और कई तरह की उसमें खामियां भी रहीं। उन्होंने कहा कि इस बार बिहार सरकार जिस तरीके से गणना कराने जा रही है उसमें सारा डाटा उपलब्ध रहेगा। सीएम नीतीश ने कहा है कि बिहारी चाहे...

पटना (अभिषेक कुमार सिंह): आज जनता दरबार कार्यक्रम के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार जातीय जनगणना के मामले में एक मिसाल बनने वाला है। इतना ही नहीं, नीतीश ने यूपीए सरकार की तरफ से कराई गई जनगणना पर भी सवाल खड़े किए।

नीतीश कुमार ने कहा है कि जो जनगणना कराई गई उसका ना तो कोई प्रारूप सामने आया और कई तरह की उसमें खामियां भी रहीं। उन्होंने कहा कि इस बार बिहार सरकार जिस तरीके से गणना कराने जा रही है उसमें सारा डाटा उपलब्ध रहेगा। सीएम नीतीश ने कहा है कि बिहारी चाहे बिहार में हो या फिर बिहार से बाहर सभी की गणना की जाएगी। प्रवासी बिहारियों के बारे में भी पूरा ब्यौरा उपलब्ध कराया जाएगा। जाति का आंकड़ा भी उपलब्ध होगा। यह सब के काम आने वाला है।

मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि हमने अपने संसाधन से इसे कराने का फैसला किया है। अभी ब्लू प्रिंट तैयार करने में तकरीबन एक महीने का समय लगेगा। उसके बाद इसे जमीन पर ले जाया जाएगा। सामान्य प्रशासन विभाग को जातीय जनगणना से जोड़ने के पीछे भी नीतीश कुमार ने अपना मकसद बताया है।

Related Story

Trending Topics

Ireland

India

Match will be start at 28 Jun,2022 10:30 PM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!