सुशील मोदी का आरोप- राजनीतिक लाभ के लिए आपातकाल विरोधी दिवस मनाना भी भूल गई RJD

Edited By Ramanjot, Updated: 26 Jun, 2022 11:11 AM

rjd has now forgotten to celebrate anti emergency day too  sushil

सुशील मोदी ने शनिवार को बयान जारी कर कहा कि आज से 47 वर्ष पूर्व 25 जून की आधी रात को अपनी सत्ता को बचाने के लिए तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने देश में आपातकाल लगाया था। पूरे देश में 1 लाख 10 हजार लोगों को जेल में बंद कर दिया गया और प्रेस...

पटनाः बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राज्यसभा सांसद सुशील कुमार मोदी ने आरोप लगाया कि राष्ट्रीय जनता दल (राजद) अपने राजनीतिक लाभ के लिए आपातकाल विरोधी विरोधी दिवस भी मनाना भूल गई है।

सुशील मोदी ने शनिवार को बयान जारी कर कहा कि आज से 47 वर्ष पूर्व 25 जून की आधी रात को अपनी सत्ता को बचाने के लिए तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने देश में आपातकाल लगाया था। पूरे देश में 1 लाख 10 हजार लोगों को जेल में बंद कर दिया गया और प्रेस सेंसरशिप लागू कर दिया गया। इतना ही नहीं राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) पर प्रतिबंध लगा दिया।

भाजपा सांसद ने कहा कि आपातकाल के खिलाफ लड़ाई में बिहार की अग्रणी भूमिका थी। उन्होंने कहा कि जिस कांग्रेस ने संविधान का गला घोट आपातकाल लगाया, देश की एक सौ से ज्यादा सरकारों को बर्खास्त किया, जो जेपी की मृत्यु के लिए जिम्मेवार है, जिस आपातकाल में एक करोड़ से ज्यादा लोगों की जबरिया नसबंदी कर दी गई, लोकतंत्र की जगह देश में तानाशाही थोप दी, उसी कांग्रेस के साथ राजद ने हाथ मिला लिया।

सुशील मोदी ने कहा कि राजद अब आपातकाल विरोधी दिवस भी मनाना भूल गई। आपातकाल थोपने वालों का साथ देने के लिए बिहार की जनता कभी राजद को माफ नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि आपातकाल ने यह बता दिया कि जनता को रोटी के साथ आजादी भी चाहिए। देश की जनता कभी भी प्रेस की आजादी पर अंकुश, लोकतांत्रिक अधिकारों का हनन एवं तानाशाही स्वीकार नहीं कर सकती।

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!