झारखंड के बच्चे-बच्चियां अब खेलकूद के साथ-साथ शिक्षा में भी लहराएंगे अपना परचम: हेमंत सोरेन

Edited By Nitika, Updated: 21 Mar, 2023 09:13 AM

statement of hemant soren

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि हमारी सोच है कि प्रतिस्पर्धा के इस युग में हमारे सरकारी विद्यालयों के बच्चे निजी विद्यालयों या बड़े शहरों के विद्यालयों के बच्चों से किसी भी क्षेत्र में कम न रहें।

 

रांचीः झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि हमारी सोच है कि प्रतिस्पर्धा के इस युग में हमारे सरकारी विद्यालयों के बच्चे निजी विद्यालयों या बड़े शहरों के विद्यालयों के बच्चों से किसी भी क्षेत्र में कम न रहें।

PunjabKesari

हेमंत सोरेन ने टाना भगत स्टेडियम खेलगांव में झारखंड शिक्षा परियोजना परिषद द्वारा आयोजित उत्कृष्ट विद्यालय के प्रबंधन समिति के सदस्यों का राज्य स्तरीय सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य के इतिहास में पहली बार यहां की शिक्षा व्यवस्था में सुधार को लेकर ऐसा आयोजन हुआ है। हमारी सरकार ने राज्य में सरकारी विद्यालयों में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं को क्वालिटी एजुकेशन उपलब्ध करवाने का संकल्प लिया है। पहले चरण में 80 उत्कृष्ट विद्यालयों में सीबीएसई की तर्ज पर हमारे बच्चों को शिक्षा मिलनी शुरू हो चुकी है। आने वाले समय में राज्य में 4000 से अधिक सरकारी विद्यालयों में यह व्यवस्था लागू की जाएगी। आने वाली पीढ़ी को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देकर उन्हें बौद्धिक तथा सामाजिक रूप से मजबूत बनाया जाएगा।

PunjabKesari

मुख्यमंत्री ने कहा कि विकसित राज्य की परिकल्पना शिक्षित राज्य से ही पूरी होगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि जो राज्य शिक्षित होता है उसे किसी के सहारे की जरूरत नहीं पड़ती है। मुख्यमंत्री ने केरल राज्य का उदाहरण पेश करते हुए अपने अनुभव साझा किए। मुख्यमंत्री ने कहा कि ईश्वर ने हमारे राज्य को प्राकृतिक संसाधनों के साथ-साथ प्राकृतिक सुंदरता से भी नवाजा है। हमारे राज्य में कोई कमी नहीं है बस थोड़ा हमसभी और आने वाले पीढ़ी को जागरूक होने की आवश्यकता है। समय के साथ-साथ स्वत: सभी चीजें सुधरेंगे और हमारा राज्य तेज गति से आगे बढ़ेगा। सीएम ने कहा कि हमारे बच्चे किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं हैं, जरूरत है कि हम उन्हें संसाधनों के साथ जोड़ें। जो बच्चे-बच्चियां पिछड़ापन और गरीबी के कारण संसाधनों के अभाव में आगे नहीं बढ़ पा रहे हैं वैसे बच्चे-बच्चियों को आगे बढ़ाने के लिए हमारी सरकार कृतसंकल्पित है। इन बच्चों के भविष्य के प्रति दिन-रात गहरी चिंतन-मनन कर हमारी सरकार नीति निर्धारण तथा योजनाएं बना रही है।

PunjabKesari

सोरेन ने कहा कि झारखंड के बच्चे-बच्चियां खेल के क्षेत्र में देश और दुनिया में झारखंड का नाम रोशन किया है। बहुत अच्छा लगता है जब हमारे बच्चे जब देश और दुनिया में खेल के क्षेत्र में झारखंड का डंका बजाते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार का प्रयास है कि खेल के साथ-साथ अब हमारे बच्चे देश के अंदर शिक्षा के क्षेत्र के क्षेत्र में भी अपना परचम लहराएं।
 

Related Story

Trending Topics

Afghanistan

134/10

20.0

India

181/8

20.0

India win by 47 runs

RR 6.70
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!