BPSC 66वीं परीक्षा परिणामः 44वां रैंक हासिल कर क्लर्क का बेटा बना एडीटीओ, इंटरनेट की मदद से करता था पढ़ाई

Edited By Nitika, Updated: 05 Aug, 2022 12:01 PM

adto became the son of a clerk by securing 44th rank

आलोक राज भोजपुर जिले के आरा सदर प्रखंड के अलीपुर गांव के रहने वाला है।उसके पिता ओमप्रकाश सिंह, पूर्वी चंपारण बेतिया जिले में सिविल कोर्ट में क्लर्क के पद पर कार्यरत हैं। आलोक राज ने अपनी प्रारंभिक पढ़ाई आराकेजा पॉल स्कूल से की है। उन्होंने मैट्रिक...

भोजपुरः बिहार लोक सेवा आयोग यानी बीपीएससी द्वारा आयोजित 66वीं परीक्षा का बीपीएससी रिजल्ट बुधवार को घोषित किया गया। इसमें भोजपुर जिले के आलोक राज सिंह ने पूरे बिहार में 44वां रैंक हासिल किया है। आलोक को एडीटीओ (एडिशनल डिस्ट्रिक्ट ट्रांसपोर्ट ऑफिसर) का पद मिला है। उन्होंने इंटरनेट की मदद से पढ़ाई कर यह सफलता हासिल की है।

PunjabKesari

जानकारी के अनुसार, आलोक राज भोजपुर जिले के आरा सदर प्रखंड के अलीपुर गांव के रहने वाला है।उसके पिता ओमप्रकाश सिंह, पूर्वी चंपारण बेतिया जिले में सिविल कोर्ट में क्लर्क के पद पर कार्यरत हैं। आलोक राज ने अपनी प्रारंभिक पढ़ाई आराकेजा पॉल स्कूल से की है। उन्होंने मैट्रिक की परीक्षा वर्ष 2013 में 95% अंक और इंटर साइंस की परीक्षा में 2015 में 89% मार्क्स के साथ पास की। इसके बाद गुरु गोविंद सिंह कॉलेज इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी दिल्ली से मैकेनिकल और ऑटोमेशन इंजीनियरिंग में डिग्री हासिल किया। पढ़ाई पूरी करने के बाद आलोक ने सिविल सेवा की तैयारी शुरू कर दी। इस दौरान उन्होंने घर में रहकर इंटरनेट सेवा की मदद से पढ़ाई शुरू की और ऑनलाइन माध्यम से ही अपनी सिविल सेवा की तैयारी पूरी की।

बता दें कि आलोक राज की सफलता पर पूरे परिवार के लोग काफी खुश हैं। गांव के लोग भी आलोक की सफलता पर फूले नहीं समा रहे हैं। वहीं बधाई देने वालों का भी तांता चलता रहा।

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!