मोतियाबिंद के ऑपरेशन के बाद 26 लोगों की आंखों की रोशनी गई, स्वास्थ्य विभाग में मचा हड़कंप

Edited By Ramanjot, Updated: 30 Nov, 2021 12:13 PM

26 people lost their eyesight after cataract operation

घटना के संबंध में बताया जा रहा है कि बीते 22 नवंबर को मुजफ्फरपुर आई हॉस्पिटल में कुल 60 मरीजों का मोतियाबिंद का मुफ्त ऑपरेशन हुआ था। अगले दिन जब पट्टी खोली गई तो 26 मरीजों को ऑपरेशन वाली आंख से कुछ दिखाई नहीं दे रहा था। परिजनों ने इसकी जानकारी...

मुजफ्फरपुरः बिहार के मुजफ्फरपुर जिले से मोतियाबिंद के ऑपरेशन के बाद 26 लोगों की आंखों की रोशनी चले जाने का मामला सामने आया है। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया है। वहीं सिविल सर्जन ने इस मामले में कड़ी कार्रवाई करने की बात कही है। 

6 लोगों की निकालनी पड़ सकती है आंख 
घटना के संबंध में बताया जा रहा है कि बीते 22 नवंबर को मुजफ्फरपुर आई हॉस्पिटल में कुल 60 मरीजों का मोतियाबिंद का मुफ्त ऑपरेशन हुआ था। अगले दिन जब पट्टी खोली गई तो 26 मरीजों को ऑपरेशन वाली आंख से कुछ दिखाई नहीं दे रहा था। परिजनों ने इसकी जानकारी डॉक्टरों को दी, लेकिन कोई हल नहीं निकला। आखिर में जब सोमवार को सिविल सर्जन तक शिकायत पहुंची तो मामला सामने आया। वहीं अब 6 मरीजों को एसकेएमसीएच में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है, जबकि कई मरीजों का इलाज पटना में चल रहा है। अस्पताल के सचिव दिलीप जालान ने आशंका जताई है कि संक्रमण गहरा होने के कारण छह लोगों की ऑपरेशन वाली आंख निकालनी पड़ सकती है। 

दोषियों पर होगी कड़ी कार्रवाईः सिविल सर्जन 
26 मरीजों की आंखों की रोशनी जाने के बाद पीड़ितों के परिजनों में भारी आक्रोश है और वे मुआवजे की मांग कर रहे हैं। इसी बीच सिविल सर्जन डॉ. विनय कुमार शर्मा का कहना है कि 3 सदस्यीय टीम गठित की गई है जो इस मामले की जांच करेगी। जो भी दोषी पाए जाएंगे उसपर कार्रवाई की जाएगी। उधर, जिलाधिकारी प्रणव कुमार ने सिविल सर्जन को पूरे मामले की जांच कर रिपोर्ट देने को कहा गया है।

Related Story

Trending Topics

Indian Premier League
Rajasthan Royals

Chennai Super Kings

Match will be start at 20 May,2022 07:30 PM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!