चिराग पासवान का नीतीश पर बड़ा हमला- CM को केवल अपनी कुर्सी से प्यार, वे पलटी जरूर मारेंगे

Edited By Ramanjot, Updated: 08 Aug, 2022 02:17 PM

chirag paswan s big attack on nitish

चिराग पासवान ने सोमवार को पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष राजू तिवारी की उपस्थिति में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री कैसे बने रहें सिर्फ इस बात की चिंता रहती है। उन्हें विकास से कोई मतलब नहीं है जबकि चिराग मॉडल तो विकास का...

पटनाः लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं बिहार के जमुई से सांसद चिराग पासवान ने आज मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जोरदार हमला बोला है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को विकास पुरुष के रूप में याद नहीं रखेगी। वे अपनी कुर्सी बचाने के लिए जोड़-तोड़ की राजनीति करते हैं। पिछले डेढ़ साल से नीतीश कुमार सिर्फ अपनी कुर्सी बचाने में लगे हैं। 

"नीतीश कुमार को विकास से कोई मतलब नहीं"
चिराग पासवान ने सोमवार को पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष राजू तिवारी की उपस्थिति में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री कैसे बने रहें सिर्फ इस बात की चिंता रहती है। उन्हें विकास से कोई मतलब नहीं है जबकि चिराग मॉडल तो विकास का मॉडल है। उन्होंने कहा कि बिहार की 32 लाख जनता ने उन्हें और उनकी पार्टी को वर्ष 2020 के विधानसभा के चुनाव में वोट देकर समर्थन किया था। चिराग का मॉडल बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट विकास का रहा है। उन्होंने कहा जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं सांसद राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह और उनकी पार्टी का मॉडल क्या है, यह उन्हें बताना चाहिए। 

"पानी में चलने वाला जहाज दौड़ेगा कैसे"
सांसद ने कहा कि नीतीश कुमार अपनी आंख का इलाज कराने दिल्ली जाते हैं। लेकिन, उन्हें सारण में जहरीली शराब से 11 लोगों की मौत और एक दिन में 10 लोगों की हत्या हो जाने जैसे मामलों में अपनी सरकार कि विफलता दिखाई नहीं देती है। उन्होंने जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह के इस बयान पर कि जदयू डूबता नहीं बल्कि दौड़ता जहाज है पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि पानी में चलने वाला जहाज दौडेगा कैसे। उन्होंने सवालिया लहजे में कहा कि क्या उपेंद्र कुशवाहा वर्ष 2020 के बिहार विधानसभा चुनाव में चिराग मॉडल के प्रतीक नहीं है। गौरतलब है कि उपेंद्र कुशवाहा उस समय अपनी राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) के साथ चुनावी मैदान में उतर कर मुख्यमंत्री पद के दावेदार थे। बाद में उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जदयू में रालोसपा का विलय कर लिया था।

सांसद ने मुख्यमंत्री से सवाल किया, 'वर्ष 2015 में आप जिनके साथ गए थे तब जंगलराज याद नहीं था। इसी जंगलराज का डर दिखाकर सत्ता में बैठे थे। किसने तैयार किया चिराग मॉडल, जदयू को इस सवाल का जवाब देना चाहिए।' उन्होंने कहा कि जदयू इस सवाल का जवाब ढूंढने में किस के इंतजार में है। चिराग ने कहा कि चिराग यदि किसी का मॉडल है तो वह अपने पिता एवं लोजपा संस्थापक रामविलास पासवान का। मुख्यमंत्री नीतीश ने जीते जी रामविलास पासवान को अपमानित करने का कोई मौका नहीं छोड़ा। उन्होंने कहा कि वह चाहते थे कि मुख्यमंत्री अपने सात निश्चय में बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट को जोड़ें। हालांकि इस बात को लेकर हमारे बीच तल्खी भी बढ़ी। 

"फिर से पलटी मारने में लगे नीतीश कुमार"
सांसद ने कहा कि उनकी पार्टी और परिवार को मुख्यमंत्री नीतीश ने तोड़ दिया है। आज जब खुद ही जदयू पार्टी टूट रही है तो बहाना बना रहे हैं। उन्होंने सवालिया लहजे में कहा कि क्या मुख्यमंत्री नीतीश कुमार चाहते हैं उन्हें प्रदेश के लोग उन्हें पलटूराम की तरह याद करें। फिर से नीतीश कुमार पलटी मारने में लगे हुए। उन्होंने मौजूदा राजनीतिक परिद्दश्य को लेकर दावा किया की बिहार में मध्यावधि चुनाव होना तय है। उन्होंने कहा कि परिस्थितियां कैसी होगी ये पता नहीं, लेकिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पलटी जरूर मारेंगे मुख्यमंत्री रहते उनको बिहार की जनता से कोई मतलब नहीं है।

Related Story

Trending Topics

India

South Africa

Match will be start at 02 Oct,2022 08:30 PM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!