IAS के मोबाइल नंबर सार्वजनिक करते ही शराब को लेकर मिल रही शिकायतों की आई बाढ़, फोन हुआ हैंग

Edited By Nitika, Updated: 07 Dec, 2021 01:05 PM

ias kk pathak made the mobile number public

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के द्वारा बिहार में शराबबंदी कानून को लागू करने के लिए हर ठोस कदम उठाया जा रहा है। इसी के चलते मद्य निषेध विभाग के अपर मुख्य सचिव की जिम्मेदारी आईएएस केके पाठक को दी गई है।

 

पटनाः मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के द्वारा बिहार में शराबबंदी कानून को लागू करने के लिए हर ठोस कदम उठाया जा रहा है। इसी के चलते मद्य निषेध विभाग के अपर मुख्य सचिव की जिम्मेदारी आईएएस केके पाठक को दी गई है। उन्होंने पदभार संभालते जैसे ही अपना मोबाइल नंबर सार्वजनिक किया, वैसे ही शराब को लेकर मिल रही सूचना और शिकायतों से आईएएस का मोबाइल हैंग हो गया।

दरअसल, केके पाठक ने मद्य निषेध विभाग में पदभार संभालते ही अपना मोबाइल नंबर सार्वजनिक रूप से जारी कर दिया। साथ ही राज्यभर के लोगों से इस नंबर पर शराब से संबंधित किसी भी तरह की सूचना देने की अपील की। आईएएस की अपील का इस कदर असर हुआ कि पूरे बिहार से व्हाट्सएप पर इतने सारे मैसेज आ रहे हैं कि उनका मोबाइल बार-बार हैंग करने लग गया है।

वहीं मद्य निषेध विभाग के अधिकारियों का कहना है कि अपर मुख्य सचिव के मोबाइल पर आने वाले मैसेज को संबंधित डीएम और एसपी के साथ ही उत्पाद अधीक्षक को भी भेजा जा रहा है। साथ ही जिन सूचना और शिकायत पर कार्रवाई हो रही है, उस पर आभार का संदेश भी भेजा जा रहा है।

बता दें कि शिकायतों की बढ़ती संख्या को देखते हुए मद्य निषेध विभाग ने अब मोबाइल की जगह कंट्रोल रूम में वेब व्हाट्सएप के माध्यम से संदेशों की मॉनिटरिंग की व्यवस्था शुरू करने का फैसला लिया है। इसके अतिरिक्त बेल्ट्रान में चल रहे कॉल सेंटर को भी मद्य निषेध इकाई में शिफ्ट कर दिया गया है।
 

Related Story

Trending Topics

Indian Premier League
Rajasthan Royals

Chennai Super Kings

Match will be start at 20 May,2022 07:30 PM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!