...केंद्रीय मंत्रिमंडल में कई ऐसे मंत्री हैं, जिन्होंने RSS के बारे में ना जाने क्या-क्या बोला: अशोक चौधरी

Edited By Nitika, Updated: 16 Jul, 2022 11:27 AM

statement of ashok choudhary

बिहार में पटना के वरीय पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) मानवजीत सिंह ढिल्लों के राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के बारे में दिए गए बयान पर भाजपा नेताओं की कड़ी आपत्ति के बीच भवन निर्माण मंत्री एवं सत्तारूढ़ जदयू के वरिष्ठ नेता अशोक चौधरी ने एसएसपी का...

 

पटनाः बिहार में पटना के वरीय पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) मानवजीत सिंह ढिल्लों के राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के बारे में दिए गए बयान पर भाजपा नेताओं की कड़ी आपत्ति के बीच भवन निर्माण मंत्री एवं सत्तारूढ़ जदयू के वरिष्ठ नेता अशोक चौधरी ने एसएसपी का अप्रत्यक्ष रूप से बचाव करते हुए कहा कि वर्तमान केंद्रीय मंत्रिमंडल में कई ऐसे मंत्री शामिल हैं, जिन्होंने पूर्व में आरएसएस के बारे में ना जाने क्या-क्या बोला है।

चौधरी ने यहां जदयू प्रदेश मुख्यालय में आयोजित जनसुनवाई कार्यक्रम के बाद पत्रकारों के एसएसपी द्वारा आरएसएस के संदर्भ में दिए गए बयान के बारे में पूछे जाने पर कहा, ‘‘मैंने उनका बयान सुना नहीं है। हां, आज अखबार में छपे उनके बयान को पढ़ा जरूर है लेकिन उससे यह स्पष्ट नहीं है कि किस परिप्रेक्ष्य में बोला गया है। कभी-कभी फ्लो में भी व्यक्ति कुछ बोल जाता है। इस मामले को उच्च अधिकारी देख रहे हैं।'' जदयू नेता ने भाजपा नेताओं की ओर से इस संदर्भ में दिए जा रहे बयान पर कहा कि उन्हें किसी के बयान पर कोई टिप्पणी नहीं करनी है लेकिन वर्तमान केंद्रीय मंत्रिमंडल में कई ऐसे मंत्री शामिल हैं, जिन्होंने पूर्व में आरएसएस के बारे में ना जाने क्या-क्या बोला है।

गौरतलब है कि बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री एवं भाजपा के राज्यसभा सदस्य सुशील कुमार मोदी ने ट्वीट कर कहा था कि धर्मनिरपेक्ष भारत को इस्लामी देश बनाने की साजिश में लिप्त पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) के संदिग्ध आतंकियों की गिरफ्तारी के बाद इस प्रतिबंधित संगठन से राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ जैसे देशभक्त संगठन की तुलना करना नितांत निंदनीय और अज्ञानतापूर्ण है। उन्होंने कहा कि पटना के एसएसपी को ऐसा बयान तुरंत वापस लेना चाहिए और इसके लिए माफी भी मांगनी चाहिए। जदयू नेता ने पिछले दिनों पकड़े गए 3 आतंकवादियों एवं 26 नामजद के संदर्भ में पूछे गए सवाल के जवाब में कहा कि इस तरह की किसी भी राष्ट्र विरोधी घटना की वह कड़े शब्दों में निंदा करते हैं। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) पूरे देश में अपना काम करती है और अंतरराज्यीय गतिविधियों की सूचना राज्य सरकार से साझा करती है।

चौधरी ने राष्ट्रपति चुनाव में विपक्षी प्रत्याशी यशवंत सिन्हा के संबंध में कहा कि जब उनकी उम्मीदवारी घोषित हुई थी, उस समय भी जो दल उनके साथ थे, उनमें से भी कई दलों ने उनका साथ छोड़ दिया है। अभी अन्य पार्टियां भी राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) प्रत्याशी द्रौपदी मुर्मू का समर्थन कर सकती हैं।
 

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!