धर्मांतरण विरोधी कानून के पक्ष में हैं गिरिराज सिंह, बोले- इसे पूरे देश में लागू किया जाना चाहिए

Edited By Ramanjot, Updated: 11 Jun, 2022 12:36 PM

giriraj singh is in favor of anti conversion law

मुजफ्फरपुर में पत्रकारों द्वारा धर्मांतरण विरोधी कानून की आवश्यकता के बारे में पूछे जाने पर गिरिराज ने कहा, ‘‘देश भर में धर्मांतरण के खिलाफ एक कानून होना चाहिए।'''' जबरन धर्म परिवर्तन के सवाल पर बुधवार को नीतीश ने कहा था कि बिहार में सरकार पूरी तरह...

मुजफ्फरपुर-पटनाः केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने धर्मांतरण विरोधी कानून की जरूरत पर बल देते हुए शुक्रवार को कहा कि इसे पूरे देश में लागू किया जाना चाहिए। भाजपा नेता गिरिराज सिंह ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा राज्य में ऐसे किसी कानून की आवश्यकता से इंकार किए जाने के कुछ ही दिनों बाद यह बयान दिया है।

मुजफ्फरपुर में पत्रकारों द्वारा धर्मांतरण विरोधी कानून की आवश्यकता के बारे में पूछे जाने पर गिरिराज ने कहा, ‘‘देश भर में धर्मांतरण के खिलाफ एक कानून होना चाहिए।'' जबरन धर्म परिवर्तन के सवाल पर बुधवार को नीतीश ने कहा था कि बिहार में सरकार पूरी तरह सचेत है और यहां इस तरह का कोई विवाद नहीं है। उन्होंने कहा था, ‘‘बिहार में बहुत शांति है। चाहे कोई किसी भी धर्म को मानता तो, किसी को कोई समस्या नहीं है। यहां इस तरह का आपस में कोई विवाद नहीं है। बिहार में दंगा जैसी कोई घटना नहीं होती है।''

दरअसल, लोकसभा में बेगूसराय का प्रतिनिधित्व करने वाले गिरिराज भाजपा के सत्ता में आने से पहले 2014 में उनके खिलाफ दर्ज एक मामले को लेकर मुजफ्फरपुर में थे। गौरतलब है कि भाजपा द्वारा आहूत भारत बंद के दौरान गिरिराज सहित कई अन्य भाजपा नेताओं के खिलाफ रेल यातायात को अवरुद्ध करने को लेकर उक्त मामला दर्ज किया गया था। गिरिराज ने रेलवे अदालत से एमपी-एमएलए अदालत में स्थानांतरित किए गए उक्त मामले को ‘‘झूठा'' बताते हुए कहा,‘‘मैं यहां अपना बयान दर्ज कराने आया हूं।'' मामले में नामित कुल 23 भाजपा नेता न्यायाधीश विकास मिश्रा की अदालत में पेश हुए।

Related Story

Trending Topics

Ireland

India

Match will be start at 28 Jun,2022 10:30 PM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!